Best Viewed in Mozilla Firefox, Google Chrome

एस.आर.आइ में अधिक दूरी

PrintPrintSend to friendSend to friend

1. कोपलों को बिल्कुल अचूक अंतर पर लगाया जाना चाहिए, आमतौर पर 25x25 सेमी, लगभग 16 पौधे प्रति वर्ग मीटर।
2. सघन रूप से लगाने के बजाय यदि अधिक दूरी पर लगाए जाएं तो चावल के पौधों की जडें और छत्र बेहतर तरीके से उगते हैं। अधिक दूरी हर पौधे को सूर्य के बेहतर रोशनी, हवा और मिट्टी के पोषक तत्व उपलब्ध कराती है और वीडिंग के लिए बेहतर पहुंच प्रदान करती है। नतीज़तन हर पौधा अधिक टिलर प्रदान करता है।
3. जडें स्वस्थ रूप से तथा बडे पैमाने पर बढेंगी तथा अधिक पोषक तत्व खींचेंगी। चूंकि पौधा मज़बूत तथा स्वस्थ होता है, टिलरों की संख्या भी अधिक होती है।
4. पैनिकल की लम्बाई अधिक होगी। पैनिकल में अधिक संख्या में दाने होते हैं और दाने का वज़न भी अधिक होगा।

File Courtesy: 
आइसीएआर एनईएच, उमियम
Image Courtesy: 
डीआरआर तकनीकी बुलेटिन
Copy rights | Disclaimer | RKMP Policies